जानिए ऐसा किया हुआ की यह महिला पिछले 13 वर्षों से शीशे में कैद है

Shishe me kaid mahila
जानिए ऐसा किया हुआ की यह महिला पिछले 13 वर्षों से शीशे में कैद है Shishe me kaid mahila

Shishe me kaid mahila शीशे में कैद की कहानी तो हम पुराने समय से सुनते आए हैं, लेकिन आज के टाइम में भी एक महिला पिछले 13 सालों से शीशे में कैद है। चलिए बताते हैं कुछ उसके बारे में….. स्पेन के कैडिज में रहने वाली 53 वर्षीय महिला जुआना मुनोज पिछले 13 साल से शीशे के एक पिंजरे में बंद है।

दरअसल वह दुर्लभ और जीवन के लिए घातक चार तरह की खतरनाक बीमारियों से जूझ रही है, ऐसी हालत में ना तो वह अपने बच्चों को गोद में उठाकर ममता की बरसात कर पा रही है और ना ही अन्य परिजनों से मिलकर अपना जीवन यापन कर पा रही है।

हाल ही में उन्हें पौत्र की प्राप्ति हुई

juana munoz

हाल ही में उन्हें पौत्र की प्राप्ति हुई है, जी हाँ वह दादी बनी है , उस पर भी वह प्यार नहीं लुटा पा रही हैं। एक ही शख्स में 4 तरीके की दुर्लभ बीमारियों से उनके चिकित्सक हैरान है। पिछले 29 वर्षों से वह केमिकल सेंसिटिविटी, फाइब्रोमायल्जिया ,क्रॉनिक फटीग सिंड्रोम और इलेक्ट्रो सेंसिटिविटी से पीड़ित हैं। उनसे बातचीत केवल माइक्रोफोन द्वारा की जा सकती है।




उनके परिवार वाले इसी की सहायता से उनसे बातचीत करते है। यह माइक्रोफोन दूसरी तरफ कांच के पिंजरे के अंदर उन से जुड़ा है। वह अपने अकेलेपन से इतनी दुखी हैं कि दुनिया में ऐसे अलग-थलग पड़े चुके लोगों के लिए सोशल मीडिया पर ‘द हग’ अभियान चला रहे हैं।

जरा इसे भी पढ़ें :
Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.