मजदूरों की 45 झोपड़ियां आग से जल कर राख

45 huts of laborers burnt to ashes by fire
आग लगने से जलकर राख हुई झोपड़ियां।

45 huts of laborers burnt to ashes by fire

देहरादून। 45 huts of laborers burnt to ashes by fire भाऊवाला में राजावाला रोड पर मजदूरों की पैंतालीस झोपड़ियां आग में जलकर राख हो गयी। मजदूरों के कपड़े, बर्तन, बिस्तर, राशन आदि सब कुछ जलकर राख हो गया। इससे मजदूर और उनके परिवार के लोग खुले आसमान के नीचे आ गये हैं।

सेलाकुई से दमकल विभाग की टीम ने आग को बुझाकर फैलने से रोक दिया। लेकिन तब तक मजदूरों की झोपड़ियों में कुछ भी नहीं बचा। भाऊवाला स्थित ग्राम पंचायत की जमीन पर खनन और क्षेत्र में काम करने वाले मजदूरों की करीब पैंतालीस झोपड़ियां थीं। जिनमें मजदूर अपने परिवारों के साथ रहते हैं।

मंगलवार को दोपहर में मजदूरों की एक झोपड़ी में अचानक आग लग गयी। देखते ही देखते आसपास बची सभी झोपड़ियां आग की चपेट में आ गयी। करीब पैंतालीस मजदूरों की ये झोपड़ियां रहने के लिए बनाई थीं।

दोपहर के समय लगी आग एकाएक तेजी से फैल गयी और मजदूरों की सभी झोपड़ियां राख हो गयी। जिनमें मजदूरों के कपड़े, बिस्तर, खाने पीने का सामान,बर्तन, राशन आदि सभी कुछ जलकर राख हो गया।

स्थानीय लोगों की सूचना पर दमकल विभाग की टीम एफएसओ रमेश चंद्र गौतम के नेतृत्व में मौके पर पहुंची। जिसने कुछ ही देर में कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पा लिया। लेकिन तब तक झोपड़ियां और उनमें रखा सारा सामान जलकर आग में खाक हो गया।

इससे मजदूरों के सामने खाने पीने और रहने का संकट खड़ा हो गया है। सभी मजदूर खुले आसमान के नीचे आ गये हैं और उनके सामने रोटी का संकट पैदा हो गया है। दमकल विभाग की टीम में रविंद्र, रविंद्र चौहान, विपिन, अमित काकरान, ओमप्रकाश आदि शामिल रहे।

जरा इसे भी पढ़े

सीएम ने हिम प्रहरी योजना लागू करने के लिए केंद्र से सहयोग मांगा
उत्तराखंड में विकराल रूप लेने लगी जंगलों की आग, वन विभाग लाचार
सीएम धामी ने पीएम मोदी से की भेंट, राज्य से जुड़े विभिन्न मुद्दों पर की चर्चा