बच्चे के नामकरण पर सरकार ने लगाई रोक, कोर्ट में मुकदमा दायर

Naamkaran
बच्चे के Naamkaran पर सरकार ने लगाई रोक , कोर्ट में मुकदमा दायर

बच्चे का जन्म होने पर मां- बाप जिंदगी खुशियों से भर जाती है। इसके दुनिया में आने से पहले ही इसकी जिंदगी की जरूरत पूरी करने की तैयारी और इससे जुड़ी सभी तैयारी पहले से ही सोच कर और करके रखते हैं। वह इसका नाम भी सोच लेते हैं लेकिन कई बार होने के बाद उसका नाम ( Naamkaran ) रखा जाता है।

हम देखते हैं आमतौर पर अपने बच्चे का नाम तय करने के लिए अभिभावक स्वतंत्र होते हैं, लेकिन फ्रांस में लोगों को सरकार की मर्जी के मुताबिक बच्चों के नाम चुनने पड़ते हैं। उन्हें यह स्वतंत्रता नहीं दी गई है। सरकार के दखल के चलते यहां का एक दंपत्ति अपनी बच्ची का नामकरण संस्कार नहीं करा पा रहा है।

बच्ची के लिए बेहद अलग और यूनिक नाम चुना था

दरअसल इस दंपति ने अपनी नवजात बच्ची के लिए बेहद अलग और यूनिक नाम चुना था -लियाम। जब वह इस नाम को रजिस्टर कराने गए तो फ्रांसीसी सरकार ने इस नाम पर आपत्ति जता दी। सरकार के मुताबिक यह नाम लड़को के लिए है और बच्ची को यह नाम देने से भविष्य में सामाजिक संबंधों में उसे नुकसान हो सकता है।




लिहाजा सरकारी वकील ने कोर्ट में याचिका दायर करके उनको दूसरा नाम चुनने को कहा है। यह भी कहा कि अगर वह ऐसा नहीं करते हैं तो कोर्ट उन्हें उनकी बेटी के लिए नाम सुझाएगा। बच्चे के अभिभावक सरकार के फैसले के खिलाफ कोर्ट में लड़ रहे हैं क्योंकि यह नाम रखने का उनका बहुत पहले से अरमान है।

जरा इसे भी पढ़ें :
Loading...
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.