अगर चीनी खाना छोड़ दें तो इस गंभीर रोग से करना पड़ सकता है सामना

Eating sugar
Eating sugar
Loading...

कितनी चीनी का उपयोग शरीर के लिए बहुत ज्यादा है? इस सवाल का जवाब अलग विशेषज्ञों ने विभिन्न आंकड़ों के साथ दिया है। लेकिन अमेरिकी स्वास्थ्य विभाग यानी खाद्य एवं औषधि प्रशासन के निर्देश पिछले दिनों जारी निर्देशों की समीक्षा की जाए तो इसमें कहा गया है कि लोगों को रोज केवल 50 ग्राम चीनी का उपयोग (Eating sugar) करना चाहिए।

यह संख्या 6 चम्मच या शीतल पेय के एक डिब्बे से कुछ कम होती है। विश्व स्वास्थ्य संगठन का भी कहना है कि रोज 25 ग्राम या 4 चम्मच चीनी का उपयोग चिकित्सा के अनुसार फायदेमंद साबित होता है। लेकिन अगर आप अपनी खुराक से चीनी को पूरी तरह निकाल दें तो क्या होगा?

तो इसका जवाब है कि कोल्ड ड्रिंक्स, केक, पेस्ट्री या ऐसे ही चीजों से दूरी अपनाया जाए तो तुरंत कई शारीरिक परिवर्तन का सामना होगा। यानी कुछ ही घंटों में हार्मोन के स्तर में परिवर्तन आएंगी जबकि इंसुलिन स्तर गिरना शुरू हो जाएगा जैसा आप जानते होंगे कि इंसुलिन शर्करा को विनियमित करती है और अतिरिक्त ग्लूकोज का संग्रहण करती है|

हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है

अगर आप शारीरिक वजन घटाने और कैलोरी में मौजूद वसा घुलाना चाहते हैं तो यह इस मामले में बहुत कठिन होगा जब आपके शरीर में इंसुलिन मात्रा बहुत अधिक हो। जब इंसान चीनी का उपयोग ( Eating sugar ) बहुत कम या खत्म कर देता है तो शरीर के लिए संग्रहीत वसा का उपयोग और ऊर्जा के लिए उसे घुलना बहुत आसान हो जाता है।

चीनी का उपयोग समाप्त करने के कुछ दिन या सप्ताह बाद लिपिड (शहम वसा) का स्तर कम हो जाता है, खासकर खून में मौजूद चर्बी की किस्म ट्राई गेलेसराइड में कमी आती है और यह बहुत महत्व रखता है क्योंकि इस चर्बी में वृद्धि हृदय रोग का खतरा बढ़ जाता है। इसी तरह ट्राई गेलेसराइड स्तर में वृद्धि स्वास्थ्य के लिए हानिकारक और कोलेस्ट्रॉल बढ़ाता है जो कि रक्त धमनियों के रोग के खतरे के रूप में सामने आता है।

एक और महत्वपूर्ण परिवर्तन तालू में आता है और विभिन्न सामानों का स्वाद बदलने लगता है विशेष रूप से वे बातें जो पहले चीनी में होती हो जैसे चाय आदि। सह परिवर्तन या नया तालू चीनी को छोड़ने की प्रक्रिया आसान बना देता है और मिठाई जैसे जाईके में अच्छा महसूस नहीं होता।

जरा इसे भी पढ़ें :

 

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.