अश्लील फिल्में देखने वाले यह खबर जरूर पढ़े नहीं तो… ashlil film

Ashlil-film

पोर्न फिल्में (Ashlil film) हैकर्स और धोखाधड़ी करने वालो की सबसे पसंदीदा साईटे

सुरक्षा विशेषज्ञों ने एंड्रॉइड स्मार्टफोन पर अश्लील फिल्में (ashlil film) देखने वाले लोगों को चेतावनी दी है कि पोर्न फिल्में Hackers और धोखाधड़ी करने वालो की सबसे पसंदीदा साईटे हैं। साइबर सुरक्षा फर्म ‘कैस्पर स्काई’ के विशेषज्ञों का कहना है कि हैकर (Hacker) और धोखाधड़ी करने वाले, लोगों को लूटने और ब्लैकमेल करने के लिए अश्लील सामग्री की मदद ले रहे हैं और स्मार्टफोन पर वायरस इंस्टाल करके पैसे चुरा लेते हैं।

जरा इसे भी पढ़ें : जानिए गूगल के नया ‘‘गुप्त ऑपरेटिंग सिस्टम’’ के बारे में

इसी हफ्ते प्रकाशित होने वाले रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनिया भर में लगभग 12 लाख लोगों के स्मार्टफोन में ऐसे वायरस इंस्टाल थे जो पोर्न फिल्मों की वेबवाईट पर मौजूद होते हैं जिनमें से 23 किस्म के वह खास वायरस थी जो सिर्फ और सिर्फ एंड्रॉइड स्मार्टफोन इंस्टाल करने वाले उपयोगकर्ताओं के लिए बनाये गये हैं। कैस्पर स्काई के विशेषज्ञों के मुताबिक, दुनिया भर में पोर्न फिल्में देखने का चलन काफी बढ़ गया है और इसके साथ ही लोगों को अश्लील सामग्री के माध्यम से लूटने वाले लोगों की बढ़ी संख्या भी सक्रिय है।

Hackers यूजर्स की निजी और बैंक से संबंधित जानकारियां हासिल करते हैं

hacker

विशेषज्ञों का कहना है कि पोर्न फिल्में देखने की इच्छा रखने वाले लोग जब ऐसी सामग्री ढूंढते हैं तो ऐसे लिंक भी सामने आते हैं जिन पर क्लिक करने से एक फर्जी मैसेज आता है कि आपके स्मार्टफोन में वायरस है, फिर उपयोगकर्ता को एक ऐसे नम्बर पर काल करने को कहा जाता है और बताया जाता है कि यह माइक्रोसॉफ्ट कस्टमर केयर सेंटर का नम्बर है लकिन यह असल में हैकर और धोखाधड़ी करने वालो का नम्बर होता है जो ‘सोशल इंजीनियरिंग’ का उपयोग करते हुये यूजर्स की निजी और बैंक से संबंधित जानकारियां हासिल करने की कोशिश करता है।

Hackers द्वारा फर्जी वार्निंग मैसेज दिया जाता

इस तरह से धोखाधड़ी करने वालों की एक बढ़ी संख्या डेटिंग वेबसाईट की भी है जो ऐसे कुंवारे लोगों को निशाना बनाती है जो जीवनसाथी की तलाश में होते हैं। इस वेबसाइट पर जाते ही अकाउंट बनाने को कहा जाता है और इसी दौरान वहां दी जाने वाली निजी जानकारी फ्राॅडो के हाथ लग जाती है। एक और फ्राॅड यह है कि एंड्रॉइड स्मार्टफोन की लोक सिक्योरिटी पर एक फर्जी वार्निंग मैसेज दिया जाता है जिसमें कहा जाता है कि आपने कोई गैरकानूनी सामग्री देखा है। विशेष रूप से चाइल्ड पोर्नग्राफी से संबंधित और इस पर जुर्माना अदा करने की चेतावनी दी जाती है और अकसर लोग जुर्माना भरने के नाम पर पैसा भेज देते हैं।

जरा इसे भी पढ़ें : एंड्रॉइड फोन में पैटर्न लॉक का कभी इस्तेमाल न करें

सिक्योरिटी विशेषज्ञों का कहना है कि हैकर पोर्न सामग्री (ashlil film) देखने वाले यूजर्स को इसलिये निशाना बनाते हैं क्योंकि वह अपने साथ होने वाले जुर्म के बारे में बहुत कम पुलिस में शिकायत करते हैं क्योंकि वह यह जाहिर नहीं करना चाहते कि वह अश्लील सामग्री देखने के आदि है। गुगल प्ले स्टोर में अश्लील सामग्री डालने वाली एप्लीकेशन रखने की इजाजत नहीं देता इसलिये उपयोगकर्ता के लिए सलाह है कि वह किसी भी दूसरी वेबसाइट से ऐसी कोई भी एप्लीकेशन इंस्टाल करने की कोशिश न करें।

जरा इसे भी पढ़ें : फेसबुक ने एक और बड़ी खामी को स्वीकार किया Disadvantages of facebook
Loading...
SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.