शायरी : चेहरे पे मेरे जुल्फ को फैलाओं किसी दिन

Chehrae pe mere Hindi Shayari
Chehrae pe mere Hindi Shayari

चेहरे पे मेरे जुल्फ को फैलाओं किसी दिन,
क्या रोज गरजते हो बरस जाओ किसी दिन।

राजों की तरह उतरो मेरे दिल में किसी शब,
दस्तक पे मेरे हाथ की खुल जाओं किसी दिन।

पेड़ों की तरह हुस्न की बारिश में नहा लूं,
बादल की तरह झूम के घर आ किसी दिन।

खुशबू की तरह गुजरो मेरे दिल की गली से,
फूलों की तरह मुझ पर बिखर जाओं किसी दिन।

गुजरे जो मेरे घर से तो उड़ जायें सितारे,
इस तरह मेरी रात को चमको किसी दिन।

में अपनी हर एक सांस उसी रात को दे दूं,
सर रखके मेरे सीने पे सो जाओं किसी दिन।

जरा इसे भी पढ़ें :

गालिब शराब पीने दे मस्जिद में बैठ कर Shayari in hindi
मैं आज बहुत उदास हूं sad shayari in hindi
Shayari : तन्हा जिन्दगी तो सभी जी लेते हैं….

Loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.